मैं सीएम हाउस से हूं, नियम मत बताओ

यहां बाघ घूमते हैं तो क्या हुआ, मैं सीएम हाउस से हूं, नियम मत बताओ

 

भोपाल। यहां बाघ घूमते हैं तो क्या हुआ, आप नियम मत बताओ। मैं सीएम हाउस से हूं। हम जंगल में एंजॉय करने आए हैं। ये रौबदार बातें भोपाल के छोटा डैम क्षेत्र में घूमने आए युवाओं के ग्रुप में से एक युवा ने वन विभाग के अधिकारियों से कही। ग्रुप के कई युवा नशे में धुत्त थे।

भोपाल सामान्य वन मंडल की समरधा रेंज के केरवा, कलियासोत, मेंडोरा, बुल मदर फार्म, 13 शटर गेट, जागरण लेकसिटी और छोटा डेम (मौत का कुआं) क्षेत्र में बाघ का लगातार मूवमेंट है। इसे देखते हुए वन विभाग ने इन इलाकों में शाम 4 बजे बाद प्रवेश पर रोक लगाई है। खासकर जंगल में घूमने और रोड़ के किनारे पार्टी करने पर सख्त पाबंदी है। बावजूद इसके कई लोग यहां पार्टी करने पहुंच जाते हैं। रविवार शाम एक दर्जन युवक छोटा डैम (मौत के कुएं) क्षेत्र में सड़क किनारे कार खड़ी कर जंगल में पार्टी करने पहुंचे थे। अंधेरा हो रहा था इस पर वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी क्षेत्र में पट्रोलिंग करते हुए पहुंचे। सर्चिंग के दौरान उन्हें सड़क किनारे कार मिली। आसपास तलाशने पर कुछ दूरी पर युवक पार्टी करते मिले। मैदानी अमले ने युवकों से वहां हटने को कहा तो वे विवाद करने लगे। इतना ही नहीं सीएम हाउस से होने की धमकी देते हुए मारपीट पर उतारू हो गए। बाद में सीएफ डॉ. एसपी तिवारी ने क्रेक टीम और पुलिस बल मौके पर भेजा और युवकों को जंगल से बाहर निकाला गया।

मिली जानकारी के मुताबिक इन युवाओं में एक युवक जो खुद का नाम अभय चौहान बता रहा था। उसने खुद को सीएम हाउस का बताया। विवाद और नौबत मारपीट तक पहुंचने पर पुलिसकर्मियोंं और वन विभाग क्रेक टीम ने युवकों को गाड़ी में बैठाकर जंगल से बाहर किया। इनमें से कई युवक नशे में थे।

बाघ के हमला पर जाएगी नौकरी

राजधानी से सटे जंगल में जहां लोग पार्टी करते हैं, वहां दो-दो बाघों की मौजूदगी है। ऐसे में किसी भी बड़ी घटना की आशंंका से इंंकार नहीं किया जा सकता। इतना ही नहीं बाघ पर भी मैन इटर (आदमखोर) होने का दाग लग जाएगा। ऐसा हुआ तो बाघों की सुरक्षा में लगे आधा दर्जन डिप्टी रेंजर, नाकेदारों की नौकरी भी जा सकती है।

बाघ ने किया गाय का शिकार

इधर वन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक बाघ टी-121 समसपुरा पहुंच गया है। उसने एक गाय का शिकार भी किया। बाघ के मूवमेंट से क्षेत्र में दहशत है। बता दें कि ये बाघ बुल मदर फार्म, मेंडोरा क्षेत्र में घूमता है जो समसपुरा पहुंच गया है।

वाहन का नंबर लिखा है, कार्रवाई करेंगे

अंधेरा होने के बाद भी कुछ युवक जंगल से नहीं हट रहे थे और शराब के नशे में मैदानी अमले से विवाद करने लगे। मौके पर टीम भेजकर उन्हें हटाया गया है। वाहन का नंबर अमले ने नोट कर लिया है। वाहन मालिक पर सख्त कार्रवाई की जाएगी – डॉ. एसपी तिवारी, कंजरवेटर फॉरेस्ट, भोपाल

Source:Agency

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *