आरोपी राम रहीम के समर्थको ने 8 हजार चिट्ठियां भेज दी जेल जन्मदिन की बधाई

सुनारिया जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा बाबा राम रहीम डाक विभाग और प्रशासन के लिए इन दिनों परेशानी की वजह से बना हुआ है। दरअसल, 15 अगस्त का राखी और राम रहीम का 52वां जन्मदिन भी है। ऐसे में हर रोज हजार से अधिक राखियां और बधाई पत्र उसके नाम आ रहे हैं।

डाक विभाग के मुताबिक, 11 दिनों में करीब 8 हजार चिट्ठियां पहुंच चुकी हैं, जिन्हें 18 बोरों में सौंपा गया है। इसके लिए कर्मचारियों को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। ये पत्र हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, हिमाचल, उत्तराखंड और अन्य राज्यों से पहुंच रही हैं। इनमें कुछ इंटरनेशनल पोस्ट भी हैं। चिटि्ठयों पर न कैदी नंबर और न बैरक जिक्र होता है। पता- संत डॉ. राम रहीम सिंह इंसा, सुनारिया जेल, रोहतक लिखा रहता है।

ऐसे पहुंचती हैं जेल में चिटि्ठयां : हर पत्र की जांच, रजिस्ट्री की पूरी स्केनिंग

मुख्य डाकघर से ऑटो से बोरे में राखियां छह किमी दूर जेल के डाकघर भेजी जा रही हैं।
दो अस्थाई कर्मचारी छंटनी के लिए लगाए गए हैं, जो बाइक से जेल को डाक सौंपते हैं।
जेल प्रशासन एक-एक पत्र की स्कैनिंग के बाद ही राम रहीम की बैरक में पहुंचाता है।
राम रहीम हर रोज पत्र पढ़कर वापस कर देता है। कुछ को जवाब भी देता है।
पिछले साल राम रहीम के नाम जेल में अगस्त में 1 टन कार्ड्स और राखियां आई थीं।