क्लाउड कम्प्यूटिंग से कॅरियर

क्लाउड कम्प्यूटिंग से  कॅरियर

इनसे बढ़ी है मांग

 

क्लाउड कम्प्यूटिंग इन दिनों काफी लोकप्रिय हो रही है क्योंकि तकनीक के रूप में इसके कई फायदे हैं। इसका सबसे पहले फायदा यह है कि अब कंपनियों को पहले की तरह डेटा और बैकअप रखने के लिए बडे-बडे सर्वर नहीं रखने पड़ते हैं क्योंकि अब क्लाउड कंपनियां ही स्टोरज की उस समस्या को खत्म कर देती हैं। इसका सीधा फायदा कंपनी के बिजनेस पर पड़ता है क्योंकि इससे कंपिनयों को अब अपने बैकअप और डाटा के बारे में न सोचकर सिर्फ अपने बिजनेस और सर्विस पर ध्यान देना होता है।
सुरक्षा के साथ भरोसा भी 
क्लाउड कम्प्यूटिंग ने जहां डाटा स्टोर कर लोगों के डेटा की सुरक्षा की है। वहीं,अच्छी परफॉर्मेंस का भरोसा भी दिया है। अब कोई भी कहीं पर भी अपना डाटा एक्सेस कर सकता है। इसके साथ ही इसने डाटा खो जाने का डर भी खत्म कर दिया है।
दक्षता है जरूरी
टेक्निकल स्किल्स होनी चाहिए मजबूत
किसी भी क्लाउड कम्प्यूटिंग में काम करने वाले प्रोफेशनल के पास एचटीएमएल, पास (प्लेटफॉर्म एस ए सर्विस), वर्चुअलाइजेशन टेक्नोलॉजी जैसी क्लाउड कम्प्यूटिंग का बेसिक और जावा, सी प्लस प्लस, नेट जैसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की जानकारी होनी चाहिए। इसके बिना वह काम नहीं कर सकता है।
बिजनेस एंड फाइनेंशियल स्किल्स
क्लाउड कम्प्यूटिंग में जहां तकनीकी रूप से मजबूत होना पड़ता है। वहीं, बिजनेस एंड फाइनेंशियल नॉलेज भी रखना पड़ता है। इसमें बिजनेस केस, ऑनलाइन मार्केटिंग स्ट्रेटजी और फाइनेंशियल टेक्नोलॉजी की जानकारी होनी जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com