बारिश का इंतजार कर रहे दिल्ली-NCR के लोगों, जानें- कब मिलेगी राहत

 मानसून में झमाझम बारिश का इंतजार बढ़ने के बीच उमस में भी इजाफा हो गया है। दिल्ली के साथ एनसीआर के इलाकों गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, बल्लभगढ़, गाजियाबाद, नोएडा में उमस से लोगों का बुरा हाल हो गया है। मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, आगामी एक सप्ताह तक ऐसा ही माहौल रहने की संभावना है।

 दिल्ली में बारिश का दौर रुकते ही उमस बढ़ गई है और गर्मी भी फिर से तेवर दिखाने लगी है। बारिश रुकने की वजह से अधिकतम तापमान 39 से 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है, वहीं न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस से भी ऊपर चल रहा है।

मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो से तीन दिन भी बिना बारिश के ही निकलने की संभावना है, जिससे गर्मी भी बढ़ेगी। हालांकि 16 से 19 जुलाई तक बारिश की संभावना बन रही है। लेकिन इस बार भी बारिश के हल्के रहने की संभावना है।

शुक्रवार को अधिकतम तापमान 38.3 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है। न्यूनतम तापमान 30.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। नमी का स्तर 49 से 84 फीसद दर्ज हुआ। मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान क्रमश: 38 और 31 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं।

स्काईमेट वेदर के मुताबिक मानसून का पहला सप्ताह खत्म हो चुका है और अगले तीन-चार दिनों तक बारिश की संभावना भी नहीं है। इस समय एक सीजनल ट्रफ रेखा दिल्ली के उत्तरी भागों में मौजूद है। यह धीरे-धीरे यह हिमालय के तराई वाले इलाकों की ओर बढ़ रही है।

बताया जा रहा है कि 15 जुलाई के आसपास सीजनल ट्रफ रेखा दक्षिणी दिशा की ओर आगे बढ़ेगी जिससे दिल्ली-एनसीआर के मौसम में बदलाव आएगा। दिल्ली-एनसीआर में 16 जुलाई के तक बारिश की उम्मीद है। साथ ही बारिश की तीव्रता में बढ़ोतरी के आसार हैं और इस दौरान दिल्ली के तकरीबन सभी हिस्सों में मध्यम बारिश की संभावना है।