जम्मू-कश्मीर व नगालैंड भेजते थे चोरी के वाहन, चार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दो अंतरराज्यीय वाहन चोर समेत चोरी के वाहन खरीदकर उसे जम्मू-कश्मीर व नगालैंड के बेचने वाले दो रिसीवर को गिरफ्तार किया है। जम्मू-कश्मीर व नगालैंड से वाहनों के डिमांड मिलने पर दोनों रिसीवर, वाहन चोरों को जानकारी देते थे। उसके बाद दोनों दिल्ली-एनसीआर से वाहन चोरी कर उन्हें सौंप देते थे। दोनों रिसीवर चोरी के वाहनों के रजिस्ट्रेशन, चेसिस व इंजन नंबर बदल देते थे।

डीसीपी क्राइम ब्रांच डॉ. जी राम गोपाल नाइक के मुताबिक गिरफ्तार वाहन चोरों के नाम सुरेश कुमार उर्फ राज व तेजेंद्र सिंह उर्फ काका व चोरी के वाहन खरीदने वाले रिसीवरों के नाम शमशाद अली व मकसूद हुसैन खान हैं। सुरेश कुमार, शाहदरा का रहने वाला है। पारिवारिक समस्याओं के चलते वह चोर बना। वह शमशाद अली की डिमांड के अनुसार वाहन चोरी करता था। उसके खिलाफ हाल ही में 43 से अधिक वाहन चोरी के केस दर्ज किए गए हैं। तेजेंद्र सिंह, मोती नगर का रहने वाला है। सबसे पहले नकली नोटों की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार होने पर वह 2014-2015 में एक साल तक जेल में रहा था। नोटों की तस्करी के आरोप में वह दोबारा भी पकड़ा गया। इसी साल जमानत पर बाहर आने के बाद वह सुरेश कुमार के साथ मिलकर वाहन चोरी करने लगा। जेल में दोनों का परिचय हुआ था। इसके खिलाफ वाहन चोरी के हाल के आठ मामले दर्ज हैं।

रिसीवर शमशाद अली (भागीरथी विहार, फेज-2) को 2002 में पुलिस ने पहले ड्रग तस्करी में गिरफ्तार किया था। पैरोल पर बाहर आने के बाद वह वापस जेल नहीं गया। वर्ष 2006 में उसे दोबारा गिरफ्तार किया गया। जेल से बाहर आने पर उसने पहले वाहन चोरी व बाद में चोरी के वाहन खरीदकर उसे बेचना शुरू किया। उसके खिलाफ दो केस दर्ज हैं।

मकसूद हुसैन खान श्रीनगर का रहने वाला है, यहां वह खानपुर में रहता था। वह एमबीए पास है। 2015 में नौकरी की तलाश में वह दिल्ली आया था। यहां उसने कॉल सेंटर में 2017 तक नौकरी की। उसके बाद आयुर्वेदिक दवा बेचने का काम किया। घाटा होने पर बिजनेस बंद कर दिया। 2018 में कश्मीर के रहने वाले डॉ. जहूर, अयूब खान, अतसूल व रफीक से परिचय होने पर जहूर ने उसका परिचय शमशाद अली से करा दिया। उसके बाद उसने चोरी के वाहन खरीदकर जम्मू-कश्मीर के वाहन चोरों को बेचना शुरू कर दिया। इनके पास से एक कट्टा, चार कारतूस, चोरी की एक सेंट्रो कार, वरना कार व बाइक बरामद की है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com