लंदन में पाक नेता गिरफ्तार, समर्थकों को उकसाने का आरोप

  • मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट के अध्यक्ष हैं अल्ताफ हुसैन, बंटवारे के बाद पाक आए मुहाजिरों के लिए काम करते हैं
  • पाक आर्मी और आईएसआई के खिलाफ बयान देते रहते हैं अल्ताफ

लंदन. पाकिस्तान के निर्वासित नेता और मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) के संस्थापक अल्ताफ हुसैन को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया। 15 अफसरों की टीम ने मंगलवार को स्कॉटलैंड यार्ड में छापा मारकर अल्ताफ को गिरफ्तार किया। 65 साल के हुसैन पर 2016 में भड़काऊ भाषण देने और समर्थकों से कानून हाथ में लेने की अपील करने का आरोप है।

पुलिस के मुताबिक, मेट्स काउंटर टेररिज्म कमांड के अफसर इस पूरे मामले की जांच कर रहे हैं। अल्ताफ पहले भी कई बार भड़काऊ भाषण दे चुका है। पुलिस टीम अगस्त 2016 और उससे पहले दिए गए सभी भाषणों की जांच कर रही है।

एमक्यूएम के सूत्रों ने गिरफ्तारी की पुष्टि की
पाक मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, एमक्यूएम के सूत्रों ने अल्ताफ की गिरफ्तारी की पुष्टि की। वहीं, लंदन पुलिस ने अल्ताफ का नाम लिए बगैर बताया, ‘‘60 साल के एक व्यक्ति को लंदन के उत्तर-पश्चिमी इलाके से गिरफ्तार किया। उसे भड़काऊ भाषण देने के आरोप में धारा 44 के तहत गिरफ्तार किया है। यह बहुत ही गंभीर अपराध की श्रेणी में आता है। उसे पुलिस एंड क्रिमिनल एविडेंस एक्ट के तहत कस्टडी में रखा गया है।’’

अल्ताफ के पास ब्रिटिश नागरिकता 
अल्ताफ 1990 से यूके में रह रहा है। उसे ब्रिटिश नागरिकता भी मिली हुई है। उसकी राजनीतिक पार्टी पहले ही टूट चुकी है। एमक्यूएम पिछले तीन दशकों में पाकिस्तान के अंदर प्रभुत्व में आई। इसका सबसे ज्यादा प्रभाव कराची में रहा है। यह पार्टी 1947 बंटवारे के बाद भारत से पाकिस्तान गए मुहाजिरों के लिए काम करती है।

पाक ने प्रत्यर्पण की मांग की
अल्ताफ टीवी और टेलीफोन के जरिए समर्थकों को भाषण देता रहा है। वह हमेशा पाक आर्मी और आईएसआई के खिलाफ बोलता रहा। अल्ताफ अपने कार्यकर्ताओं को हिंसा के लिए प्रेरित भी करता है। पाक सरकार ने ट्रायल के लिए अल्ताफ के प्रत्यर्पण की मांग की है।

HAMARA METRO

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com